Explore Business Problem, Problem Solution, and more!

शुरू करें बिजनेस, लेकिन रखें इन बातों का ध्यान !  1) व्यवसायिक भवन में नलकूप ईशान अथवा पूर्व में लगवाएं।  2) ऐसे भवनों में लॉन एवं पार्किंग के लिए हमेशा ईशान दिशा का चुनाव करें।  3) ध्यान रखें, व्यावसायिक भवन के गेट के सामने कोई खंभा या बड़ा वृक्ष न हों।  4) ऐसे भवनों का मुख्य द्वार हमेशा उत्तर दिशा में ही रखें। यह शुभ माना गया है।  5) व्यवसायिक भवनों का निर्माण करते समय यह सुनिश्चित करें भूखंड समकोणीय और चौकोर हो। ऐसे में वह अपने उपयोगकर्ता को बेहतर लाभ पहुंचा सकता है।

शुरू करें बिजनेस, लेकिन रखें इन बातों का ध्यान ! 1) व्यवसायिक भवन में नलकूप ईशान अथवा पूर्व में लगवाएं। 2) ऐसे भवनों में लॉन एवं पार्किंग के लिए हमेशा ईशान दिशा का चुनाव करें। 3) ध्यान रखें, व्यावसायिक भवन के गेट के सामने कोई खंभा या बड़ा वृक्ष न हों। 4) ऐसे भवनों का मुख्य द्वार हमेशा उत्तर दिशा में ही रखें। यह शुभ माना गया है। 5) व्यवसायिक भवनों का निर्माण करते समय यह सुनिश्चित करें भूखंड समकोणीय और चौकोर हो। ऐसे में वह अपने उपयोगकर्ता को बेहतर लाभ पहुंचा सकता है।

Personal Problems? Consult to Astrologer Ankit Sharma at +91-98154-18307.

Personal Problems? Consult to Astrologer Ankit Sharma at +91-98154-18307.

जानें, सूर्यदेव को जल चढ़ाने के लिए कौनसा समय है उपयुक्त और क्या होते हैं लाभ !  सूर्यदेव को जल चढ़ाने की परंपरा आज की नहीं बल्कि वैदिक काल से ही चली आ रही है। सूर्य सभी ग्रहों के राजा माने गए हैं।  शास्त्रों के अनुसार सूर्योदय के समय पूर्व दिशा की ओर मुख करके और शाम के समय पश्चिम की ओर मुख करके सूर्यदेव को जल चढ़ाना चाहिए। ऐसी मान्यता है कि सूर्य को जल चढ़ाते समय गिरने वाले जल वज्र बनकर रोग का विनाश करते हैं।

जानें, सूर्यदेव को जल चढ़ाने के लिए कौनसा समय है उपयुक्त और क्या होते हैं लाभ ! सूर्यदेव को जल चढ़ाने की परंपरा आज की नहीं बल्कि वैदिक काल से ही चली आ रही है। सूर्य सभी ग्रहों के राजा माने गए हैं। शास्त्रों के अनुसार सूर्योदय के समय पूर्व दिशा की ओर मुख करके और शाम के समय पश्चिम की ओर मुख करके सूर्यदेव को जल चढ़ाना चाहिए। ऐसी मान्यता है कि सूर्य को जल चढ़ाते समय गिरने वाले जल वज्र बनकर रोग का विनाश करते हैं।

love marriage specialist astrologer in india Vishwambhar das shastri		 9166654466		 loveastro121@gmail.com		 http://lovemarriagesolution.org

love marriage specialist astrologer in india Vishwambhar das shastri 9166654466 loveastro121@gmail.com http://lovemarriagesolution.org

Still confused about your extramarital affairs and want to get rid of from this relation just call at +91-9815418307 or Mail at info@astrologerankitsharma.com

Still confused about your extramarital affairs and want to get rid of from this relation just call at +91-9815418307 or Mail at info@astrologerankitsharma.com

Get Your Love Back by ‎Astologer‬ Vashikaran Specialist Ankit Sharma at +91-981-5418307.

Get Your Love Back by ‎Astologer‬ Vashikaran Specialist Ankit Sharma at +91-981-5418307.

1 अक्टूबर से शुरू होंगे शारदीय नवरात्र, जानिए शुभ संयोग व घट स्थापना मुहूर्त !  1 अक्टूबर को प्रतिपदा तिथि होगी, जो कि 2 अक्टूबर को सुबह 7.46 बजे तक रहेगी। हालांकि इस दिन सूर्योदय सुबह 6.24 बजे ही होगा। सूर्योदय के समय जो तिथि होती, उस दिन वहीं तिथि मानी जाती है। इसके चलते 2 अक्टूबर को प्रतिपदा तिथि मानी जाएगी। 1 व 2 को माता शैलपुत्री की आराधना व 1 को घटस्थापना के तीन मुहूर्त होंगे। प्रतिपदा तिथि की वृद्धि श्रेष्ठ व समृद्धिकारक रहेगी। 10 अक्टूबर को महानवमी मनाई जाएगी।

1 अक्टूबर से शुरू होंगे शारदीय नवरात्र, जानिए शुभ संयोग व घट स्थापना मुहूर्त ! 1 अक्टूबर को प्रतिपदा तिथि होगी, जो कि 2 अक्टूबर को सुबह 7.46 बजे तक रहेगी। हालांकि इस दिन सूर्योदय सुबह 6.24 बजे ही होगा। सूर्योदय के समय जो तिथि होती, उस दिन वहीं तिथि मानी जाती है। इसके चलते 2 अक्टूबर को प्रतिपदा तिथि मानी जाएगी। 1 व 2 को माता शैलपुत्री की आराधना व 1 को घटस्थापना के तीन मुहूर्त होंगे। प्रतिपदा तिथि की वृद्धि श्रेष्ठ व समृद्धिकारक रहेगी। 10 अक्टूबर को महानवमी मनाई जाएगी।

वास्तुदोष कम करने में मदद करता है अशोक का पेड़ !   1. अशोक का पेड़ महिलाओं को शारीरिक व मानसिक ऊर्जा देने में सफल माना जाता है। यदि महिलाएं अशोक के पेड़ पर रोज जल चढ़ाएं तो उनकी इच्छाएं पूरी हो सकती हैं, साथ ही वैवाहिक जीवन में सुख बना रहता है।

वास्तुदोष कम करने में मदद करता है अशोक का पेड़ ! 1. अशोक का पेड़ महिलाओं को शारीरिक व मानसिक ऊर्जा देने में सफल माना जाता है। यदि महिलाएं अशोक के पेड़ पर रोज जल चढ़ाएं तो उनकी इच्छाएं पूरी हो सकती हैं, साथ ही वैवाहिक जीवन में सुख बना रहता है।

Pinterest
Search